CBSE Maths : गणित का पेपर होगा आसान, 2020 से छात्रों को मिलेगा दो विकल्प

विद्यार्थियों पर पढ़ाई के दबाव को कम करते हुए केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) ने सर्कुलर जारी कर दसवीं बोर्ड में गणित के दो स्तर – गणित मानक और गणित बेसिक की घोषणा की है. गणित मानक मौजूदा परीक्षा के बराबर होगा और गणित बेसिक आसान पेपर होगा. इस सर्कुलर के बाद अब दसवीं बोर्ड के छात्रों को गणित के पेपर में दो विकल्प दिए जाएंगे. आगामी साल 2020 से इस सर्कुलर को लागू किया जाएगा. इसके मुताबिक जो छात्र सीनियर सेकेंडरी लेवल पर गणित विषय को कंटिन्यू नहीं रखना चाहते] वे दसवीं बोर्ड में गणित बेसिक यानी सरल प्रश्न-पत्र का चुनाव कर सकते हैं.

निदेशक परीक्षा डॉ. जोसेफ इमैनुएल ने बताया कि यह बदलाव केवल बोर्ड परीक्षा के प्रश्न पत्र में किया जाएगा, दोनों स्तरों के लिए सिलेबस, क्लास टीचिंग और इंटरनल असेसमेंट समान रहेंगे. गणित के प्रश्न-पत्र के निर्धारण में केवल अंतर होगा] परीक्षण किए गए विषय समान रहेंगे.

सीबीएसई सर्कुलर के अनुसार जो छात्र मैथेमेटिक्स बेसिक पेपर का विकल्प चुनते हैं उन्हें सीनियर सेकेंडरी लेवल पर मैथ्स को चुनने की अनुमति नहीं होगी. सर्कुलर के मुताबिक परीक्षा के कुछ महीने पूर्व] जब एफिलिएटेड स्कूल की ओर से परीक्षार्थियों की सूची बोर्ड में जमा की जाएगी तब छात्र अपनी परीक्षा का स्तर चुन सकते हैं. हालांकि यदि कोई छात्र बाद में सीनियर सेकेंडरी लेवल पर गणित विषय को आगे बढ़ाने का मन बनाता है तो उसे कंपार्टमेंट परीक्षा के दौरान गणित की मानक परीक्षा में बैठने का विकल्प दिया जाएगा.

इस प्रक्रिया को शुरू करने में बोर्ड ने नेशनल फोकस ग्रुप जो कि नेशनल करिकुलम फ्रेमवर्क 2005 का हिस्सा है, द्वारा परीक्षा की सुधार स्थिति में पेपर का हवाला दिया गया और शिक्षार्थियों के मूल्यांकन में लचीलेपन की आवश्यकता पर फोकस किया.

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.