CLAT 2019: क्लैट को लेकर बड़ा फैसला, अब होगी ऑफलाइन परीक्षा


CLAT 2019: देश भर के लॉ यूनिवर्सिटीज के कुलपतियों ने संयुक्त विधि प्रवेश परीक्षा (Joint Law Entrance Examination) के आयोजन में बड़ा बदलाव किया है. बदलाव के तहत अब लॉ यूनिवर्सिटी में प्रवेश प्राप्त करने के लिए आयोजित कॉमन लॉ एडमिशन टेस्ट (क्लैट) की परीक्षा कुलपतियों के समूह द्वारा ऑफलाइन करायी जाएगी. अभी तक परीक्षा के आयोजन की जिम्मेदारी किसी एक लॉ यूनिवर्सिटी को सौंपी जाती थी. इस निर्णय के बाद क्लैट-2019 की ऑनलाइन परीक्षा फिर से ऑफलाइन होगी.

क्यों हुआ ये बदलाव?
हर वर्ष देश भर के टॉप लॉ यूनिवर्सिटीज में एडमिशन के लिए किसी एक लॉ यूनिवर्सिटी में क्लैट का आयोजन किया जाता है. इससे यूनिवर्सिटीज परीक्षा को लेकर नए-नए प्रयोग करने लगे, लिहाजा परीक्षा के स्तर में गिरावट आने लगी. इस संबंध में अक्तूबर माह में कोच्चि में 21 कुलपतियों के समूह ने बैठक कर सर्वसम्मति से ऑफलाइन परीक्षा कराने का निर्णय लिया. नेशनल लॉ यूनिवर्सिटी कटक के प्रो. कृष्ण देव राव ने कहा कि 2015 से आयोजित ऑनलाइन परीक्षा अब ऑफलाइन होगी.

कंसोर्टियम द्वारा होगी ऑफलाइन परीक्षा
विभिन्न लॉ यूनिवर्सिटीज के कुलपतियों ने कन्सोर्टियम द्वारा क्लैट की ऑफलाइन परीक्षा आयोजित करने का निर्णय लिया है. इसमें 21 नेशनल लॉ यूनिवर्सिटीज के कुलपति शामिल होंगे. बंगलुरु में स्थापित पहले नेशनल लॉ यूनिवर्सिटी में कंसोर्टियम के स्थायी सचिवालय की स्थापना की गई है. क्लैट के सभी कार्य इसी सचिवालय से क्रियान्वित होंगे.

Leave a Reply

Your email address will not be published.