बिहार के निर्दलीय बाहुबली विधायक अनन्त सिंह के घर से एके -47 बरामद- FIR दर्ज

बिहार के मोकामा से वर्तमान निर्दलीय विधायक अनन्त सिंह की मुश्किलें अब बढ़ती नजर आ रही हैं | हुआ ये कि मोकामा विधायक अनन्त सिंह के पैत्रिक निवास पर पुलिस ने छापेमारी की थी | इस छापेमारी में विधायक के घर से एके -47 एवं भारी मात्रा में हैण्ड ग्रेनेड, कारतूस समेत कई अन्य हथियार बरामद किये थे |

भारी मात्रा में हथियार बरामद होने के पश्चात पुलिस ने विधायक अनन्त सिंह के खिलाफ गैरकानूनी गतिविधियाँ (निरोधक) अधिनियम के तहत प्राथमिकी दर्ज कर उनकी तलाश शुरू कर दिया है | इसी परिप्रेक्ष्य में पटना पुलिस ने शनिवार की लगभग आधी रात को उनके सरकारी आवास उन्हें गिरफ्तार करने पहुँचीं, लेकिन बाहुबली विधायक अनंत सिंह पुलिस को चकमा देकरघर के पीछे के रास्ते से फरार हो गया |

घर से भारी मात्रा में हथियारों की बरामदगी पर अनन्त सिंह ने बताया कि यह सब उन्हें बदनाम करने की सोची समझी साजिश है | उन्होंने बताया कि यह सब खेल मुंगेर से जनता दल यू के सांसद लल्लन सिंह द्वारा खेला जा रहा है | उन्होंने दावा किया कि जब वह पिछले 14 वर्षों से उस मकान में नहीं रह रहे हैं तो वहाँ पर हथियार कैसे पहुँच गए |

अनन्त सिंह ने पुलिस पर यह भी आरोप लगाया कि छापेमारी की कोई भी सूचना पुलिस ने उनको नहीं दी है और छापेमारी की यह सूचना उन्हें गांव वालों द्वारा दी गई है | उन्होंने पुलिस द्वारा उनके घर में तोड़ –फोड़ की भी शिकायत की जा रही है |

गैरकानूनी गतिविधियाँ (निरोधक) अधिनियम {UAPA}
यह अधिनियम वर्ष 1967 में ‘भारत की अखंडता तथा संप्रभुता की रक्षा’ के उद्देश्य से पेश किया गया था | इस नियम के तहत किसी भी व्यक्ति पर ‘आतंकवादी या गैरकानूनी गतिविधियों में लिप्तता का संदेह होने पर, बिना किसी वारंट के भी उस व्यक्ति की तलाशी या गिरफ्तारी की जा सकती है और आरोपी को जमानत की अर्जी देने का भी अधिकार नहीं है | तलासी के दौरान अधिकारी किसी भी सामान को जब्त कर सकते हैं | इस मामले में पुलिस को 90 दिन का समय चार्जशीट दाखिल करने के लिए दिया जाता है |

Leave a Reply

Your email address will not be published.