केन्द्रीय चुनाव आयोग द्वारा वन स्टॉप सल्यूशन की शुरुआत

केंद्रीय चुनाव आयोग ने आज 1 सितम्बर 2019 को अपने नई दिल्ली स्थित मुख्यालय में एक विशेष कैम्प का आयोजन किया | जिसमें केन्द्रीय चुनाव आयोग ने मतदाता सूची के मतदाता विवरणों को सत्यापित और प्रमाणित करने के लिए किया ‘वन स्टॉप सल्यूशन’ की शुरुआत की.

कैम्प का मुख्य उद्देश्य

इस कैम्प का मुख्य उद्देश्य पूरे देश में ‘इलेक्टर वेरिफिकेशन प्रोग्राम’ के मेगा मिलियन  को लॉन्च करना था | इस अवसर पर मुख्य केंद्रीय चुनाव आयुक्त श्री सुनील अरोड़ा ने राष्ट्रीय मतदाता सेवा पोर्टल (https://www.nvsp.in/) और मतदाता हेल्पलाइन एप का शुभारम्भ करने पश्चात कहा कि मतदाता सूची ही भारतीय चुनाव आयोग की आधारशिला है | इसलिए मैं देश के सभी नागरिकों से आग्रह करता हूँ कि हमारे देश के ऐसे सभी नागरिक जिनका मतदाता सूची में नाम है वे सभी मतदाता इस मतदाता सूची के विवरणों के सत्यापन में भाग लें | जिससे चुनाव आयोग आगामी समय में आने वाले सभी चुनावों में मतदाताओं को अच्छी से अच्छी सेवाएँ प्रदान कर सके |

आपको ज्ञात होगा कि चुनाव आयोग के इतनी मशक्कत के पश्चात भी मतदाता सूची में मतदाताओं से सम्बंधित विवरणों को शुद्ध नहीं किया जा सका है |  चुनाव के दौरान मतदान के समय मतदाताओं को मतदाता सूची में मतदाता की गलत विवरणों के कारण ही विभिन्न प्रकार की समस्याओं से गुजरना पड़ता है |

इस कार्यक्रम के अवसर पर चुनाव आयुक्त श्री अशोक लवासा ने भी कहा कि यह एक महत्वपूर्ण अवसर है कि जब सभी मतदाता, मतदाता सूची में अंकित अपने सभी विवरणों को सत्यापित और प्रमाणित कर सकते हैं |

इस कार्यक्रम के शुभारम्भ के अवसर पर पूरे देश के, सभी राज्यों एवं केंद्र शासित प्रदेशों के 32 सीईओ, जिलों के 700 डीईओ और लगभग 10 लाख मतदान केन्द्रों में बीएलओ / ईआरओ ने इस कार्यक्रम की शुरुआत की | यह कार्यक्रम 1 सितम्बर, 2019 से 15 अक्टूबर, 2019 तक चलेगा |

Leave a Reply

Your email address will not be published.