मोदी कैबिनेट का महा फैसला

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की अध्यक्षता में केंद्रीय कैबिनेट की मीटिंग हुई जिसमे कई महत्वपूर्ण फैसले लिए गए | कैबिनेट मीटिंग समाप्त होने के पश्चात केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर द्वारा प्रेस कॉन्फ्रेंस करके कैबिनेट में लिए गए फैसलों के बारे मे जानकारी दी गई | प्रेस कॉन्फ्रेंस करते समय केन्द्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर के साथ रेल मंत्री पियूष गोयल भी उपस्थित थे |

केंद्रीय मंत्रिमंडल के मुख्य फैसले

  1. जावड़ेकर ने बताया कि देश भर में 24 हजार करोड़ रुपये की लागत से कुल 75 नए मेडिकल कॉलेज 2021 – 22 तक स्थापित किए जायेंगे और 15000 MBBS सीटें भी बढ़ाई जाएँगी | ऐसा करने से ग्रामीण इलाकों में डॉक्टरों की कमी  को पूरा किया जा सकेगा | यह मेडिकल कॉलेज उन इलाकों में खोले जायेंगे जहाँ अभी मेडिकल कॉलेज नहीं है |
  2. गन्ना किसानों के लिए भी कैबिनेट द्वारा बड़ा फैसला लिया गया जिसमें गन्ना किसानों को तोहफा देते हुए 60 लाख मीट्रिक टन चीनी निर्यात करने के लिए एक्सपोर्ट सब्सिडी देने का फैसला किया गया | यह सब्सिडी सीधे किसानों के खाते में भेजी जाएगी | इससे किसानों का घाटा कम होगा |
  3. एफडीआई को लेकर रेल मंत्री पियूष गोयल ने बताया कि कोल माइनिंग और उसके सेल के लिए 100 प्रतिशत एफडीआई को मंजूरी दी जाएगी | तथा कोयला धुलाई में भी 100 प्रतिशत की एफडीआई को अनुमति की मंजूरी दी गई है |
  4. रेल मंत्री द्वारा यह भी बताया गया कि भारत में 2014 से 2019 तक 286 बिलियन डॉलर का रिकार्ड एफडीआई आया है |
  5. डिजिटल मीडिया में भी 26% विदेशी निवेश की मंजूरी सरकार ने दे दी |
  6. कैबिनेट ने एकल ब्राण्ड खुदरा कारोबार के तहत ऑनलाइन खुदरा बिक्री की भी अनुमति दे दी |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *